Cricket

India beat New Zealand by eight wickets to win the series

India beat New Zealand by eight wickets to win the series

India beat New Zealand by eight wickets to win the series

भारत ने दूसरे वनडे में आईसीसी नंबर वन ODI रैंकिंग वाली न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हराकर सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली है। भारत पिछले 24 वनडे सीरीज में एक भी दफा हारा नहीं है।

शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल स्टेडियम, रायपुर में टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया।

भारत टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनने का सही फैसला लिया

कीवी पारी के पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर ही मोहम्मद शमी ने फिन एलन को बोल्ड मार दिया। इनस्विंगर ने सबसे पहले बल्ले का अंदरूनी किनारा लिया, बैक पैड से टकराते हुए मिडिल स्टंप पर जा लगी।

न्यूजीलैंड ने शून्य के स्कोर पर अपना पहला विकेट खो दिया। छठे ओवर की तीसरी गेंद पर निकोलस के बल्ले का बाहरी किनारा और गेंद फर्स्ट स्लिप में शुभ्मन गिल के हाथों में। गुड लेंथ गेंद सीम के साथ थोड़ी बाहर की तरफ जा रही थी, निकोलस ने क्लोज्ड बैट फेस के साथ शॉट खेल दिया। 5.3 ओवरों में 8 पर 2।

यहां से जरूरत थी एक बड़ी पार्टनरशिप की लेकिन केन विलियमसन की अनुपस्थिति में कीवी बल्लेबाजी बहुत असहाय नजर आई।

डेरेल मिचेल 7वें ओवर की पहली गेंद पर मोहम्मद शमी की बॉल को ऑन साइड में धकेलना चाह रहे थे, पर बल्ले का फेस जल्दी लगने के कारण थिक एज सीधा गेंदबाज के हाथों में पहुंच गया। स्कोर 9 रन पर 3 विकेट।

हार्दिक पंड्या के 10वें ओवर की चौथी गेंद को डेवॉन कॉन्वे गेंदबाज के बाईं तरफ से खेलना चाह रहे थे। हार्दिक ने फॉलो थ्रू में ही बायां हाथ आगे किया और ब्लाइंडर पकड़ लिया।

कॉन्वे ने बनाए 16 गेंद पर 7 और स्कोर हो गया 15 पर 4। यहां से समझ में आ गया था कि आज के मैच का रोमांच खत्म हो चुका है।

न्यूजीलैंड के कप्तान भी शार्दुल ठाकुर की गेंद पर आउट हो गए

थोड़ी बहुत उम्मीद कप्तान टॉम लैथम से थी लेकिन शार्दुल ठाकुर ने उसे भी तोड़ दिया। 11वें ओवर की तीसरी गेंद गुड लेंथ अक्रॉस द लेफ्ट हैंडर। बल्लेबाज का बगैर पैर हिलाए नथिंग शॉट और एज सीधा फर्स्ट स्लिप में गिल के हाथ।

कप्तान के खाते में 17 गेंदों पर 1 और टीम का स्कोर 5 विकेट के नुकसान पर 15 रन। यहां से माइकल ब्रेसवेल और ग्लेन फिलिप्स ने काउंटर अटैक की रणनीति अपनाई। दोनों ने मिलकर 48 गेंदों में 51 रन भी जोड़ दिए।

तभी 19वें ओवर की तीसरी गेंद मोहम्मद शमी ने शॉर्ट पिच डाल दी। एंगल अक्रॉस द लेफ्ट हैंडर। पुल शॉट के प्रयास में एज लग गया और बाकी का काम ईशान किशन ने बहुत आसानी से कर लिया। 56 पर 6 विकेट।

अब मिचेल सैंटनर ने ग्लेन फिलिप्स के साथ पार्टनरशिप बना ली

दोनों ने अगली 70 गेंदों पर 47 रन जोड़ दिए। पर 31वें ओवर की पहली गेंद पर सैंटनर चले गए और 32वें ओवर की पहली गेंद पर ग्लेन फिल्लिप्स। सैंटनर पंड्या की धीमी गेंद पर ड्राइव करना चाहते थे लेकिन हार्ड हैंड से खेलने के कारण बल्ले का अंदरूनी किनारा विकेट पर जा लगा।

फिलिप्स सुंदर की शॉर्ट बॉल को पुल करने के असफल प्रयास में डीप मिडविकेट पर लपके गए। सैंटनर ने बनाए 39 गेंदों पर 27, तो वहीं फिलिप्स के हिस्से आए 52 बॉल पर 36…! 34वें ओवर की पहली गेंद पर वाशिंगटन सुंदर को लॉकी फर्ग्यूसन पुल करना चाहते थे

और एक दफा फिर डीप मिडविकेट में सूर्यकुमार यादव ने कैच लपक लिया

35वें ओवर की तीसरी गेंद पर कुलदीप यादव ने टिकनर को LBW कर पारी खत्म कर दी।

पहले बल्लेबाजी करते हुए 34.3 ओवरों में ही न्यूजीलैंड की पूरी पारी केवल 108 रनों पर सिमट गई। न्यूजीलैंड की तरफ से सबसे ज्यादा 36 रन ग्लेन फिलिप्स ने 52 गेंदें खेलकर बनाए।

पहले वनडे के हीरो रहे माइकल ब्रेसवेल के खाते में 22 और मिचेल सैंटनर के बल्ले से 27 रन आए। भारतीय गेंदबाजी को लीड किया मोहम्मद शमी ने।

शमी ने 6 ओवरों में 3 की इकोनॉमी से 18 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए। हार्दिक पंड्या और वाशिंगटन सुंदर को भी 2-2 सफलताएं मिलीं। कुलदीप, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर ने भी 1-1 शिकार किया।

टीम इंडिया ने 20.1 ओवरों में ही 2 विकेट खोकर जीत अपने नाम कर ली। वर्ल्ड कप के लिहाज से यह जरूरी रहा कि भारतीय कप्तान और सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने शानदार अर्धशतक जड़ा।

रोहित शर्मा का एक बार और बल्ला चमका

हिटमैन ने अपनी पारी में 7 चौके और 2 गगनचुंबी छक्के लगाए। बतौर कप्तान वनडे क्रिकेट में रोहित शर्मा की बात करें, तो उन्होंने 23 पारियों में 56.91 की एवरेज से 1000 रन पूरे कर लिए।

अब उनके वनडे क्रिकेट में बतौर कैप्टन 1019 रन हैं। अबतक 5 दफा रोहित शर्मा और शुभ्मन गिल बतौर सलामी जोड़ी वनडे क्रिकेट में नजर आई है।

जिसमें उन्होंने चौथी दफा 50 प्लस पार्टनरशिप पूरी कर ली। हिटमैन जरूर अर्धशतक लगाकर आउट हो गए, लेकिन शुभ्मन गिल नाबाद 40 रन बनाकर वापस लौटे।

विराट कोहली 11 रन बनाकर मिचेल सैंटनर की गेंद पर स्टंप आउट हो गए। भारत 2019 के बाद घर में एक भी वनडे सीरीज नहीं हारा है। यह टीम इंडिया की लगातार सातवीं घरेलू वनडे सीरीज जीत है।

भारतीय टीम की जबरदस्त परफॉर्मेंस

भारत में जो अंतिम 24 वनडे सीरीज खेले हैं, उनमें 22 दफा जीत हिंदुस्तान के हाथ लगी है। इन 24 में बाकी बचे 2 वनडे सीरीज भारत हारा नहीं था, बल्कि वे ड्रॉ हो गए थे।

अंतिम 7 वनडे सीरीज में वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका और न्यूजीलैंड जैसी टीमों को भारतीय टीम ने वनडे सीरीज में बुरी तरह परास्त कर नाको चने चबवा दिया है।

यह जीत इसलिए भी खास है क्योंकि न्यूजीलैंड मौजूदा समय में आईसीसी वनडे रैंकिंग के मामले में दुनिया की नंबर वन टीम है।

ऐसा पहली बार हुआ है कि भारत ने लगातार 7 वनडे सीरीज अपने नाम किया है। इससे पहले 2009 से 2011 और फिर 2016 से 2018 तक भारत ने लगातार 6 वनडे सीरीज जीती थीं।

पूरा यकीन है कि आने वाले समय में इस जीत का असर भारतीय खिलाड़ियों के खेल पर साफ नजर आएगा। साल के अंत में होने वाला वनडे वर्ल्ड कप भारत निश्चित तौर पर जीत कर दिखाएगा।

कायम रहेगी जीत के बाद देश की शान
ODI वर्ल्ड कप जीतेगा अपना हिंदुस्तान

Team Vacancy Mitra:-Click Here